Home Interesting facts Tare kam kyon dikhai dete Hain | रात को तारे कम दिखने...

Tare kam kyon dikhai dete Hain | रात को तारे कम दिखने का कारण स्टडी में हुआ खुलासा जानिए क्या है वजह

233
0
SHARE
Tare kam kyon dikhai dete Hain
Tare kam kyon dikhai dete Hain

Tare kam kyon dikhai dete Hain | रात को तारे कम दिखने का कारण स्टडी में हुआ खुलासा जानिए क्या है वजह

नमस्कार दोस्तों एजुकेशन पोर्टल Newsviralsk.com पर आपका स्वागत है। आज हम विज्ञान से संबंधित कुछ जानकारी आपके साथ शेयर करने वाले हैं।
जिसके माध्यम से आप जानेंगे कि पहले की तुलना में अब रात को तारे कम क्यों दिखाई देते हैं।

जैसे पहले के समय में आकाश टिमटिमाते तारों से भड़े रहते थे, वैसा अब नजारा देखने को लगभग नहीं मिलता है।

तो आइए जानने की कोशिश करते हैं की आखिर किस कारण से ऐसी घटनाएं हो रही है।

Tare kam kyon dikhai dete Hain : रात को सारे कम दिखने का कारण स्टडी में हुआ खुलासा जानिए क्या है वजह

एक शोध के अनुसार तारे कम दिखाई देने का कारण प्रकाश प्रदूषण में बढ़ोतरी बताया गया है। जिसका बड़ा हिस्सा शहरों में चमकने वाले प्रकाश से होता है।

क्या आप Light Polution या प्रकाश प्रदूषण के विषय में जानते हैं?
यह अवांछित गैर जरूरी और आर्टिफिशियल लाइटिंग के बेतहाशा इस्तेमाल करने से पूरी दुनिया में प्रकाश प्रदूषण तेजी से बढ़ रहा है।

वर्तमान किए गए एक स्टडी में बताया गया है कि प्रकाश प्रदूषण आसमान को रात में चमका रहा है।

इसी प्रदूषण के कारण आसमान से तारे गायब होते जा रहे हैं। यानी कि जिस तारीख को पहले आप आंखों से देखा करते थे, वह अब आसमान में चमक के बढ़ जाने से दिखाई देना बंद हो गए हैं।

एक स्टडी के अनुसार यह बताया गया है कि 18 वर्ष पहले एक आम इंसान या स्टार गेजर रात के समय आकाश में 250 रोशनी के छीटों या ऑब्‍जेक्‍ट्स को देख सकता था। वह अब संख्या सिमटकर 100 पर  आ गई है।

इस प्रकार के यहां करें दुनिया भर के हजारों सिटीजन साइंटिस्टों की जानकारी के द्वारा जुटाई गई है।

आसमान में तारों का दिखना क्यों कम हो गया?
अध्ययन के अनुसार इसको प्रकाश प्रदूषण में बढ़ोतरी को ही बताया गया है जोकि इसका बड़ा हिस्सा शहरों से चमकने वाली लाइटिंग से आती है।

अध्ययन के हिसाब से शहरों की लाइटों के द्वारा प्रत्येक साल आसमान की चमक में 9.6 प्रतिशत की बढ़ोतरी हो रही है।

दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में आसमान अलग-अलग डर से चमकने लगा है। स्टडी में यह पाया गया है कि यूरोप में आसमान को चमकने की दर 6.5 फ़ीसदी प्रति वर्ष लगभग है।

वहीं उत्तरी अमेरिका में प्रकाश प्रदूषण के कारण आसमान की चमक प्रत्येक साल 10.4 फ़ीसदी तक बढ़ती जाती है।

अध्ययन में यह भी कहा गया है कि शहरी वातावरण के कारण जिस तेजी से तारे दिखाई देना बंद होते जा रहे हैं वह एक बेहद नाटकीय स्थिति हो गई है।

इस अध्ययन को GFZ जर्मन रिसर्च सेंटर फॉर जियोसाइंसेस, रुहर-यूनिवर्सिटेट बोचुम और US नेशनल साइंस फाउंडेशन के NOIRLab के रिसर्चर्स के द्वारा मिलकर पूरा किया गया है।

इस प्रोजेक्ट का नाम “ग्लोब एट नाइट” सिटीजन साइंस प्रोजेक्ट रखा गया है। वर्ष 2011 से 2022 तक के इस स्टडी को इस अंजाम तक पहुंचाया गया है। यह स्टडी जनरल साइंस में पब्लिश्ड की गई है।

अध्ययन कहती है कि प्रकाश प्रदूषण में बढ़ोतरी चिंता का विषय बन गया है। इससे नो तो सिर्फ इंसान बल्कि उन क्षेत्रों में रहने वाले जीव जंतु भी बहुत प्रभावित हो रहे हैं।

अनेक रिसर्चर्स ने बताया है कि आकाश रात को कितना चमकता है इसको पहले कभी मापा नहीं गया। लेकिन सेटेलाइट के द्वारा मिली आंकड़ों के अनुसार कुछ अनुमान लगाया गया है।

इस अध्ययन का एक पहलू यह भी होता है कि रिसर्चर्स के पास विकासशील देशों का पर्याप्त डाटा उपलब्ध नहीं था जहां पर बदलाव और भी तेजी से जारी है।

तो यह जानकारी आपको कैसा लगा कमेंट में हमें जरूर बताएं और इस बढ़ते प्रकाश प्रदूषण को कम करने में अपना योगदान अवश्य करें। जय हिंद

Tare kam kyon dikhai dete Hain
Tare kam kyon dikhai dete Hain

>>>>>>>>>

इसे भी पढ़ें 

Chanakya Niti : यदि आपके पत्नी में ये 4 गुण है तो मुसीबत भी आने से पहले एक बार सोचेगा

Chanakya Niti : अपने जीवन में पांच प्रकार के लोगों से दूर रहना नहीं तो बर्बाद हो जाओगे

Chanakya Niti: मनुष्य को गधे से सीखना चाहिए तीन बातें, आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता

Chanakya Niti  : आखरी दम तक स्त्री अपने पति से यह बातें छुपाती है, खुद टेस्ट लेकर देख सकते हैं

Chanakya Niti  : आखरी दम तक स्त्री अपने पति से यह बातें छुपाती है, खुद टेस्ट लेकर देख सकते हैं

70+ Best Chanakya Quotes In Hindi | आचार्य चाणक्य के सर्वश्रेष्ठ अनमोल विचार चाणक्य नीति

Chanakya Niti : ऐसे लोगों पर मां लक्ष्मी की कृपा बरसती है, गरीबी में पैदा लेने के बावजूद बन जाते हैं अमीर

Chanakya Niti: धन के तीन गति के बारे में चाणक्य क्या कहते हैं, जाने 


रोचक तथ्य पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें


atozsk
Atozsk

अनमोल विचार को पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here