Home Interesting facts सर्दियों में तेजपत्ता शरीर की इन बीमारियों को करता है दूर, बदहजमी...

सर्दियों में तेजपत्ता शरीर की इन बीमारियों को करता है दूर, बदहजमी का बेहतरीन इलाज तेजपत्ता

634
0
SHARE
Sardiyo me tezpatta sharir ke a chi bimariyon ke liye labhdayak
Sardiyo me tezpatta sharir ke a chi bimariyon ke liye labhdayak

सर्दियों में तेजपत्ता शरीर की इन बीमारियों को करता है दूर, बदहजमी का बेहतरीन इलाज तेजपत्ता : वात दोष से नजला-खांसी को दूर करने में इस तरह से इस्तेमाल करें तेजपत्ता का! बदहजमी का भी रामबाण इलाज है, तेजपत्ता। सर्दियों के मौसम में तेजपत्ता ( Tejpatta in Winter season) आपके शरीर के अंदर छिपी बीमारियों को खत्म करने में बहुत मदद करता है। तो आइए जानने की कोशिश करते हैं कि कौन सी हैं ये स्वास्थ्य समस्याएं।

तेजपत्ता के बारे में आप क्या और कितना जानते हैं? शायद आप इतना तक जानते होंगे कि तेजपत्ता खाने के स्वाद को बढ़ाने में काम आता है। इसके अलावा तेजपत्ता को जलाकर मच्छर को भी घर से बाहर निकाला जा सकता है। लेकिन इससे ज्यादा यह क्या है? आइए जानते हैं।

कुछ लोगों को ही इसके बारे में पता होगा कि यह एक ऐसा मसाला है जिसके सेवन से भोजन का पाचन आसान होता है। साथ ही तेजपत्ता में कुछ ऐसे भी गुण पाए जाते हैं जो शरीर के अंदर छिपे दोष को नष्ट करने का काम करता है। आज हम आपको तेजपत्ता के कुछ ऐसे फायदे के बारे में बताएंगे जो आपको बिल्कुल हैरान कर देंगे।

वात-दोष को समाप्त करता है तेजपत्ता

आपको यह जानना जरूरी है कि तेजपत्ता पाचन में हल्का होता ही है, साथ ही इसमें वात नाशक गुण भी मौजूद होते हैं।

असल बात यह है कि हमारे खान पान की कुछ चीजें भी वात दोष का कारण बनती है और उसमें तासीर ठंडी भी होती हैं। जिसका सेवन यदि रात को किया जाए तो यह शरीर के लिए हानिकारक होता है, लेकिन यदि उसी में तेजपत्ता डाल कर सेवन किया जाए तो इससे उसका वात गुण और ठंडा पन कम हो जाता है।

ठंडी चीजों के साथ तेजपत्ता का सेवन करने से होने वाले दुष्प्रभाव कम हो जाता है, चाहे वह आलू हो या चावल, राजमा, चना हो, इन सभी का वात दोष गुण पाया जाता है जिससे तेजपत्ता के माध्यम से हम समाप्त कर सकते हैं।

खांसी-नजला में है फायदेमंद तेजपत्ता

खांसी, नजला जैसी कुछ साधारण बीमारी में तेज पत्ते के पाउडर को शहद में मिलाकर खाने से आराम मिल सकता है। तेजपत्ते के तेल का भी प्रयोग कर इस स्वास्थ्य समस्या से बचा जा सकता हैं। इसके साथ ही यदि छोटे बच्चों के पेट में दर्द हो रहा है या पेट अफर रहा है, तो तेजपत्ते का पाउडर चटाने से उनकी पेट संबंधित समस्या ठीक हो जाती है।

हाजमा शक्ति को दुरुस्त करता है तेजपत्ता

यदि आपका हाजमा शक्ति कमजोर है और आप जो भी खाते हैं आप उसे ठीक से हजम नहीं कर पाते हैं तो आप तेजपत्ते का इस्तेमाल कर के चीजों को हजम कर सकते हैं। जिस भी चीज को हजम करने में दिक्कत हो तो उस चीज में आप तेजपत्ता डाल दे तो वह चीज आप जल्दी ही हजम कर सकते हैं।

तेजपत्ता से बदहजमी होती है दूर

तेजपत्ते के पाउडर का नियमित सेवन होने वाली बदहजमी को भी दूर करता है। साथ ही यदि दांतों में दर्द है या दांतों में कीड़ा लगा हुआ है तो तेज पत्ते के पाउडर का इस्तेमाल मंजन के रूप में कर के इन समस्याओं से निजात पा सकते है।

अधिक उम्र के लोगों के लिए यह तेजपत्ता का पाउडर बड़े काम की चीज है, क्योंकि उम्र बढ़ने के साथ ही उनका खाना हजम नहीं होता लेकिन सब्जी में तेजपत्ता डालने से उनका खाना आसानी से हजम हो जाता है।

इसका प्रयोग कैसे करें

1. तेजपत्ता को पानी में उबालकर इसका काढ़ा बनाकर पीया जा सकता है।
2. तेजपत्ता को पीसकर इसका पाउडर बनाकर सब्जी में प्रयोग कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें

सर्दियों में गुड़ का चाय पीने वाले सावधान | Side Effects of Jaggery Tea in Hindi

मूंगफली, गरीबों का बादाम | कैसे करें सेवन ✓ क्या है फायदे ✓

20+ गूगल के बारे में रोचक जानकारी | Interesting facts about Google in Hindi

Interesting facts about Japan in Hindi | जापान और टोक्यो के विषय में रोचक जानकारियां

Interesting facts about Australia in Hindi | ऑस्ट्रेलिया के बारे में कुछ रोचक तथ्य

नोट — दोस्तों, ये संपूर्ण जानकारियां आयुर्वेद नुस्खों तथा सामान्य जानकारियों के आधार पर ली गई है। NewsViralSK.com इसकी कोई पुष्टि नहीं करती है। आपसे आग्रह है कि इस्तेमाल करने से पहले चिकित्सक से जरूर परामर्श लें।

Prevention is better than cure

Sardiyo me tezpatta sharir ke a chi bimariyon ke liye labhdayak
Sardiyo me tezpatta sharir ke a chi bimariyon ke liye labhdayak

Interesting facts से संबंधित पोस्ट पढ़ने के लिए

Read More–? Click Here

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here